नई दिल्ली

बाबा रामदेव से रविशंकर तक ये है देश के सबसे दौलतमंद बाबा, संपत्ति जान फैट जाएगा मुँह

नई दिल्‍ली :- हमारे देश ने अपने अंदर आध्यात्मिकता की समृद्ध धरोहर को संभाला हुआ है. यह एक पीढ़ी से दूसरी के पास स्थानांतरित होती रहती है. हजारों-हजार साल निकल जाने के बाद भी अगर यह धरोहर सहेजी जा सकी है तो इसमें आध्‍यात्‍मिक गुरुओं की अपनी भूमिका है. इन्‍होंने देश के आध्यात्मिक क्षेत्र को आकार प्रकार किया है. सिर्फ यही नहीं, इन आध्‍यात्‍मिक गुरुओं के लाखों-लाख भक्‍तों ने इन्‍हें आर्थिक रूप से भी समृद्ध बनाया है. आइए, यहां कुछ सबसे दौलतमंद और प्रभावशाली आध्यात्मिक गुरुओं और बाबा के जीवन के बारे में बात करते हैं.

Join WhatsApp Group Join Now
Join Telegram Group Join Now

ramdev

   

बाबा रामदेव

बाबा रामदेव ने हमारे देश के हर घर में योग पहुंचाया है. योग गुरु बाबा रामदेव ने पतंजलि आयुर्वेद के माध्यम से देश की वेलनेस इंडस्‍ट्री में बड़े बदलाव का नेतृत्व किया है. वह हरियाणा में खेती-किसानी वाले परिवार से संबंध रखते है. उन्होंने 15 साल तक लंबा संघर्ष किया है. रास्ते में चलते-फिरते उन्‍होंने लोगों को हरिद्वार में योग सिखाया है. वर्तमान में वह कई शाखाओं के साथ पतंजलि योगपीठ और दिव्य योग मंदिर ट्रस्ट का नेतृत्‍व कर कर रहें है. अनुमान है कि उनकी कुल संपत्ति 1600 करोड़ रुपये से ज्‍यादा है.

श्री श्री रविशंकर

श्री श्री रविशंकर आर्ट ऑफ लिविंग फाउंडेशन के संस्थापक हैं.  अंतरराष्‍ट्रीय स्‍तर पर उनकी आध्यात्मिक ख्‍याति बनी हुई है. वह शांति, ध्यान और मानवीय प्रयासों के लिए अपनी अटूट प्रतिबद्धता के लिए प्रसिद्ध है. 151 देशों में उनके 30 करोड़ से ज्‍यादा अनुयायी हैं. मीडिया रिपोर्ट्स के मुताबिक श्री श्री रविशंकर ने छह साल की उम्र में वैदिक साहित्य का अध्ययन शुरू किया था. सत्रह साल की उम्र में उन्‍होंने अपनी शिक्षा पूर्ण कर कर ली थी. उनके आर्ट ऑफ लिविंग पाठ्यक्रमों ने पूरी दुनिया में लाखों लोगों के जीवन पर प्रभाव डाला है. उन्होंने तनाव मुक्त जीवन को बढ़ावा दिया है  स्वास्थ्य सुविधाओं, फार्मेसी और आर्ट ऑफ लिविंग केंद्रों जैसी संपत्तियों को मिलाकर उनकी कुल संपत्ति 1,000 करोड़ रुपये तक बताई जाती है.

माता अमृतानंदमयी

माता अमृतानंदमयी केरल से संबंधित है.  उनका जन्म 27 सितंबर, 1953 को हुआ था. उन्‍हें हिंदू गुरु और मानवतावादी कहा जाता है. माता अमृतानंदमयी को लोग अम्मा कहते है. वह अमृतानंदमयी ट्रस्ट का नेतृत्व करती है. उनकी अनुमानित संपत्ति‍ 1,500 करोड़ रुपये के आसपास बताई जाती है.

Author Deepika Bhardwaj

नमस्कार मेरा नाम दीपिका भारद्वाज है. मैं 2022 से खबरी एक्सप्रेस पर कंटेंट राइटर के रूप में काम कर रही हूं. मैंने कॉमर्स में मास्टर डिग्री की है. मेरा उद्देश्य है कि हरियाणा की प्रत्येक न्यूज़ आप लोगों तक जल्द से जल्द पहुंच जाए. मैं हमेशा प्रयास करती हूं कि खबर को सरल शब्दों में लिखूँ ताकि पाठकों को इसे समझने में कोई भी परेशानी न हो और उन्हें पूरी जानकारी प्राप्त हो. विशेषकर मैं जॉब से संबंधित खबरें आप लोगों तक पहुंचाती हूँ जिससे रोजगार के अवसर प्राप्त होते हैं.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button

Adblock Detected

कृपया इस वेबसाइट का उपयोग करने के लिए आपके ऐड ब्लॉकर को बंद करे