भिवानी न्यूज़

भिवानी वासियो के लिए आई बड़ी खुशखबरी, अब बनेगा वीटा का चिलिंग प्लांट

भिवानी :- शहर वासियों के लिए एक खुशखबरी है. नया साल अपने साथ नई पहल लेकर आया है. आपको बता दें कि भिवानी के गांव सलेमपुर में दो एकड़ भूमि पर पांच करोड़ की लागत से वीटा चिलिंग प्लांट (Vita Chilling Plant) तैयार किया जाएगा. नए साल में क्षेत्र के लोगों को मछली पालन के साथ-साथ अब दुग्ध क्रांति लाने के लिए भी बेहतर वातावरण उपलब्ध करवाया जाएगा. इसके लिए सभी Formalities पूरी कर ली गई हैं. जल्द ही पुलिस हाउसिंग काॅरपोरेशन चिलिंग प्लांट निर्माण कार्य का टेंडर देगा.

Join WhatsApp Group Join Now
Join Telegram Group Join Now

vita plat

   

1972 में भिवानी में बना था मिल्क प्लांट

भिवानी में 1972 में मिल्क Plant खुला था. उस वक़्त प्लांट से इलाके की करीब ढाई हजार से अधिक दुग्ध समितियां भी जुड़ी थीं और दुग्ध क्रांति में भिवानी जिला अहम भूमिका में था. समय की मार और राजनीतिक महत्वाकांक्षाओं के चलते भिवानी का मिल्क प्लांट Rohtak के मिल्क प्लांट से जुडा, जबकि भिवानी में सिर्फ चिलिंग प्लांट रह गया. यहां की Machinery भी रोहतक Shift हो गई. अब भिवानी के चिलिंग प्लांट से केवल भिवानी और चरखी दादरी की करीब 200 दुग्ध समितियां ही जुड़ी हैं.

दुग्ध उत्पादन की दिशा में खुलेंगे नए विकल्प

भिवानी चिलिंग प्लांट में रोजाना ही लगभग 60 हजार लीटर दुग्ध का Production होता है. जो रोहतक मिल्क प्लांट में Processing के लिए भेज दिया जाता है. वर्तमान में लोहारू, सिवानी और बहल क्षेत्र की कई दुग्ध समितियां केवल इसलिए बंद हैं, क्योंकि 65 से 70 किलोमीटर दूर भिवानी चिलिंग प्लांट में दूध लाने पर Transportation का भारी भरकम खर्च होता है और वाहन में दूध को सुरक्षित रख पाना मुश्किल हो रहा है. ऐसे में अब गांव सलेमपुर में दो एकड़ भूमि में बनने वाला नया चिलिंग प्लांट इलाके के लोगों के लिए दुग्ध उत्पादन की दिशा में नए विकल्प देगा.

इलाके में तैयार होंगी नई दुग्ध समितियां

यहां के लोग दुग्ध समितियां बनाकर दुग्ध उत्पादन से अपनी Income भी बढ़ा पाएंगे. चिलिंग प्लांट बनने से सिवानी, लोहारू, बहल, सिंघानी क्षेत्र के करीबन 75 से ज्यादा गांवों की 100 से अधिक दुग्ध समितियों को इससे जुड़ेगी. जो समितियां बंद पड़ी थी, अब वे भी अपना दुग्ध उत्पादन वीटा को बेच पाएंगी. नई दुग्ध समितियां भी इलाके में तैयार की जाएगी. इन सभी समस्याओं को देखते हुए कृषिमंत्री के प्रयासों से सलेमपुर गांव में वीटा का नया चिलिंग प्लांट शुरू होगा.

Author Deepika Bhardwaj

नमस्कार मेरा नाम दीपिका भारद्वाज है. मैं 2022 से खबरी एक्सप्रेस पर कंटेंट राइटर के रूप में काम कर रही हूं. मैंने कॉमर्स में मास्टर डिग्री की है. मेरा उद्देश्य है कि हरियाणा की प्रत्येक न्यूज़ आप लोगों तक जल्द से जल्द पहुंच जाए. मैं हमेशा प्रयास करती हूं कि खबर को सरल शब्दों में लिखूँ ताकि पाठकों को इसे समझने में कोई भी परेशानी न हो और उन्हें पूरी जानकारी प्राप्त हो. विशेषकर मैं जॉब से संबंधित खबरें आप लोगों तक पहुंचाती हूँ जिससे रोजगार के अवसर प्राप्त होते हैं.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button

Adblock Detected

कृपया इस वेबसाइट का उपयोग करने के लिए आपके ऐड ब्लॉकर को बंद करे