चरखी दादरी न्यूज़वायरल वीडियो

Haryana Police: हरियाणा पुलिस के कांस्टेबल ने 5 हजार में तैयार की इलेक्ट्रिक साइकिल, सिर्फ 20 रूपए में तय करेगी 150 किलोमीटर का सफर

चरखी दादरी :- आपने बहुत सारे इलेक्ट्रिक वाहन देखे होंगे, आजकल इलेक्ट्रिक स्कूटर और इलेक्ट्रिक बस जैसे साधन सड़कों पर दौड़ते दिख जाएंगे. क्या आपने Electric साईकिल देखी है. अब आप सोच रहे होंगे कि इलेक्ट्रिक साइकिल तो अभी तक तैयार ही नहीं हुई है. ऐसा नहीं है, हरियाणा पुलिस में कांस्टेबल  पद पर तैनात संदीप धनखड़ ने एक इलेक्ट्रिक साइकिल का निर्माण किया है. इस ई साइकिल को तैयार करने में करीब 5000 रूपये का खर्च आया है. इस इलेक्ट्रिक साइकिल को चार्ज करने में ज्यादा समय भी नहीं लगता.

Join WhatsApp Group Join Now
Join Telegram Group Join Now

Haryana Police news

   

बेहद कम कीमत में तैयार की इलेक्ट्रिक साइकिल 

इलेक्ट्रिक साइकिल को तैयार करने में करीब 5000 रूपये का खर्च आया है. यह साइकिल 20 रुपए से कम खर्च में 150 किलोमीटर की दूरी तय कर सकती है. इसे तैयार करने में ई- साइकिल के टायर, चैन रिंग का प्रयोग किया गया है. इस Cycle की गति को हाथ से घटा- बढा भी सकते है. इस इलेक्ट्रिक साइकिल की गति सीमा 35 Km प्रति घंटा है. संदीप के पिता ने जानकारी देते हुए कहा कि वह संदीप को जितने भी पैसे खर्च करने के लिए देता था वह उन सभी रुपयों को Innovations, में ख़र्च कर देता था उन्हें वह अपने गैराज में किसी ने किसी इनोवेशन में लगा देता था.

इससे पहले तैयार कर चुका पैराग्लाइडर  

संदीप धनखड़ ने करीब 5 वर्ष पहले पैराग्लाइडर भी बनाया था एविएशन नियम के तहत यह 600 फुट ऊँचा उड़ सकता था. इसमें बाइक का इंजन और उड़ान के लिए पैराग्लाइडिंग विंग लगी हुई थी. यह पैराग्लाइडर पेट्रोल से चलता था और इसे करीब 1 लीटर पेट्रोल में 30 मिनट तक उड़ाया जा सकता था. इसे तैयार करने में 50 से 60 हजार रूपये तक खर्च आया था. इसके अलावा संदीप एक इलेक्ट्रिक बाइक भी बना चुका है. इस बाइक में 12 वोल्ट की 4 बैटरी लगाई गई थी, जो एक बार चार्ज होने के बाद 40 से 50 किलोमीटर तक चलती थी. इस Electric Bike को तैयार करने में 10,000 रूपये का खर्च आया था.

जिला पुलिस प्रशासन द्वारा किया जाएगा सम्मानित  

संदीप धनखड़ के पिता किसान सुरेश कुमार ने बताया कि जब वह ITI करता था, तब वह कुछ ना कुछ नया करने में लगा रहता था. उन्होंने बताया कि पहले मुझे भी गुस्सा आता था कि वह बेकार में ही लगा हुआ है, परंतु आज बेटे की उपलब्धि पर हमें नाज है. SP निकिता गहलोत ने संदीप के इनोवेशन की काफी तारीफ की और कहां उसे कांस्टेबल संदीप द्वारा बनाई गई इलेक्ट्रिक साइकिल और अन्य इनोवेशन के बारे में पता चला जिसके लिए उसे जिला पुलिस द्वारा सम्मानित किया जाएगा. संदीप ने ITI में भी अन्य 2 लड़कों के साथ मिलकर हेलीकॉप्टर बनाना शुरू किया था, परंतु इसमें उन्हें कामयाबी नहीं मिल पाई.

Author Shweta Devi

मेरा नाम श्वेता है. मैं हरियाणा के भिवानी जिले की निवासी हूं. मैंने D.Ed और स्नातक तक की पढ़ाई पूरी कर ली है. वर्तमान में मै Khabri Express पर बतौर लेखक के रूप में कार्य कर रही हूं. मै सरकार के द्वारा चलाई जा रही विभिन्न स्कीम, एजुकेशन और लाइफ स्टाइल से जुड़े विभिन्न कंटेंट जितनी जल्द हो सके पाठको तक पहुंचाने की कोशिश करती हूँ.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button

Adblock Detected

कृपया इस वेबसाइट का उपयोग करने के लिए आपके ऐड ब्लॉकर को बंद करे