नई दिल्ली

Tractor Mileage Tips: किसान भाइयों के ट्रैक्टर का तेल बचाने के लिए रामबाण है ये टिप्स, आज से ही होगा अच्छे माइलेज का वादा

नई दिल्ली, Tractor Mileage Tips :- वह भी एक समय था जब किसानों को तपती धूप और बारिश के थपेड़ों के बीच खेतों की जुताई, फसल को मंडी पहुंचाना और अन्य कई कठिन कामों को करना पड़ा। उस समय खेती सिर्फ बैलों और मजदूरों की मदद से होती थी, लेकिन आज कृषि यंत्रों और मशीनों ने खेती को पूरी तरह से बदल दिया है। आज किसानों का सबसे करीबी साथी ट्रैक्टर है, जो इन्हीं कृषि मशीनरियों और यंत्रों में शामिल है। चाहे वह खेती से संबंधित हो, उपज को ढोकर मंडी में पहुंचाना हो या किसानों का व्यक्तिगत काम हो। ट्रैक्टर की उपस्थिति में हर कार्य कई गुना अधिक आसान हो गया है।

Join WhatsApp Group Join Now
Join Telegram Group Join Now

Tractor Driver

   

ऐसे करे डीजल की बचत (Tractor Mileage Tips)  

1 किलोमीटर के लिए डीजल खेती-किसानी के अलावा कई अन्य कार्यों में खपत होता है, जिनमें अलग-अलग अनुपात में डीजल की आवश्यकता होती है। ट्रैक्टर से रोटावेटर चलाने पर प्रति घंटे सात से आठ लीटर डीजल खर्च होता है। ट्रेक्टर वजन ढोकर 1 लीटर डीजल पर 5 से 7 किलोमीटर की माइलेज देता है।

  • जब अल्टरनेटर या स्ट्रॉ रीपर ट्रैक्टर के साथ प्रयोग किए जाते हैं, तो इनमें हर घंटे छह से सात लीटर तक डीजल निकलता है. यह बात काम, समय और परिस्थितियों पर निर्भर करती है।
  • खेत में जुताई या अन्य कृषि कार्य करते समय ट्रैक्टर को चौड़ाई के बजाय लंबाई में चलाना चाहिए, जिससे डीजल बचेगा।
  • इंजन की सफाई करते रहें ताकि हवा का संचार लगातार हो सके।
    नियमित रूप से मोबिल इंजन आयल बदलने से ट्रैक्टर की मरम्मत की लागत कम होगी।

खेती के लिए कौन सा ट्रैक्टर बेहतर है?

  • अब ट्रैक्टर किसानों का साथी बन गए हैं, लेकिन किसानों को अपनी जमीन और आवश्यकताओं के अनुसार सही माइलेज वाला ट्रैक्टर खरीदना चाहिए।
  • 5 से 10 एकड़ की जमीन वाले छोटे या मध्यम किसान को कम से कम 35 से 40 हॉर्स का ट्रैक्टर खरीदना चाहिए। ये हर साल और खेती के सभी सीजनों में अच्छी तरह काम करते हैं।
  • बड़ी जमीन वाले किसानों के लिए 50 से 55 एचपी के ट्रैक्टर ही पर्याप्त हैं। इन्हें मालवाहक भी कहते हैं।
  • बाजार और किसानों के बीच शक्तिशाली 400 ट्रैक्टर, जो 40 HP श्रेणी में आता है, काफी लोकप्रिय है।
  • कृषि कार्यों के लिए चार व्हील ड्राइव वेरिएंट वाला जॉन डियर 5075 ई ट्रैक्टर भी शामिल है।
  • 42 हॉर्स पावर क्षमता वाला दो व्हील ड्राइव वेरिएंट महिंद्रा 475 डीआई ट्रैक्टर भी बहुत लोकप्रिय है।
  • इसके अलावा, किसानों को कई घंटों का काम करने के लिए फार्मट्रैक 45 ट्रैक्टर, स्वराज 735 एफई और न्यू हॉलैंड 3630 टीएक्स प्लस भी उपलब्ध हैं।

ये ट्रैक्टर बेशक महंगे हैं, लेकिन किसानों को उनके खर्चों को कम करने के लिए प्रधानमंत्री किसान ट्रैक्टर योजना जैसी कई सब्सिडी योजनाएं भी चल रही हैं. आवेदन करने पर ट्रैक्टर खरीद में 20 से 50 प्रतिशत तक सब्सिडी दी जाती है।

Rohit

प्रिय पाठको मेरा नाम रोहित कुमार है. मैं खबरी एक्सप्रेस का फाउंडर हूँ. वेबसाइट पर कार्य मेरी देख रेख में ही किये जाते है. यदि आपको हमारी वेबसाइट के किसी कंटेंट से कोई समस्या है. तो आप मुझे Admin@khabriexpress.in पर मेल कर सकते है

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button

Adblock Detected

कृपया इस वेबसाइट का उपयोग करने के लिए आपके ऐड ब्लॉकर को बंद करे